क्या कोरोना वायरस की वजह से टलने वाला है अमेरिका का राष्ट्रपति चुनाव?
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Is presidential election in America going to be postponed due to corona virus?

कोरोना क्विक अपडेट

  • स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में अब तक कोरोना के 62,25,763 केस कन्फर्म हो चुके हैं, जिनमें 9,40,441 एक्टिव केस हैं, 51,87,825  लोग ठीक हो चुके हैं और 97,497 की मृत्यु हो चुकी है।
  • वेबसाइट वर्ल्डमीटर्स.इनफो के मुताबिक, भारत कुल केस और एक्टिव केस दोनों के लिहाज से अमेरिका के बाद दुनिया में दूसरे स्थान पर है, जबकि मृत्यु के मामले में अमेरका और ब्राजील के बाद तीसरे स्थान पर है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना से पूरी दुनिया के 235 देशों और इलाकों में अब तक 3,32,49,563 लोग संक्रमित हुए हैं और 10,00,040 लोग दम तोड़ चुके हैं।
  • कोरोना के बारे में अफवाहों से बचने और पल-पल की सही जानकारी व ख़बरें प्राप्त करने के लिए जुड़े रहें https://tanman.org/ के साथ।

हाथ अब बाद में मिलाएंगे। गले भी बाद में मिलेंगे। ओलिंपिक (Olympics) भी अब बाद में होंगे। हर चीज पोस्टपोन हो रही है। ऐसे में क्या अमेरिका में इस साल नवंबर में होने जा रहा राष्ट्रपति चुनाव भी क्या पोस्टपोन होने वाला है, यह एक बड़ा सवाल है, जो इस वक्त अमेरिका में चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि, नवंबर के चुनाव टलने के मसले पर चर्चा तो जरूर हो रही है, मगर यह टलेगा या नहीं, इसे लेकर अब तक कुछ निश्चित तौर पर कोई कुछ कह नहीं पा रहा है।

क्या कहना है पूर्व उपराष्ट्रपति का?

पूर्व उपराष्ट्रपति और डेमोक्रेटिक की ओर से संभवतः नाॅमिनेशन हासिल करने जा रहे जोसेफ आर बिडेन जूनियर (Joseph R. Biden Jr) ने एक टेली-फंड-रेजर कार्यक्रम के दौरान समर्थकों से बातचीत में कहा है कि हमने एक गृह युद्ध (Civil War) के बीच में मतदान किया है। हमने प्रथम विश्व युद्ध और द्वितीय विश्व युद्ध के बीच में मतदान किया। ऐसे में राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया को स्थगित करने का विचार मुझे दृश्य से बाहर लगता है।

अमेरिका में टल चुके हैं प्राइमरी

  • नवंबर से पहले जो अमेरिका के कई राज्यों में प्राइमरी (primaries), यानी कि अप्रत्यक्ष रूप से चुनाव होने हैं, पहले ही कई राज्यों द्वारा इन्हें टाल दिया गया है। कहा जा रहा है कि प्राइमरी का आयोजन अब जून में किया जायेगा। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की वजह से ऐसा किया गया है।
  • सीनेटर बर्नी सैंडर्स (Bernie Sanders), जो कि बिडेन के मुख्य प्रतिद्वंद्वी हैं, उन्होंने भी कई डिबेट में भाग नहीं लिया है।
  • वे कह चुके हैं कि जुलाई में जो एक कन्वेंशन की योजना उन्होंने बनाई है, यदि उसमें लोग इकट्ठा नहीं हो पाते हैं और इसका आयोजन कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से नहीं हो पाता है तो ऐसे में आकस्मिक विकल्पों की उन्हें तलाश करनी होगी।

बन चुका है बहस का मुद्दा

अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में अब भी समय है। कोई यह बता पाने में इस वक्त समर्थ नहीं है कि चुनाव टलेंगे या नहीं। हालांकि, अमेरिका में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण जो चुनाव टाले जाने का मुद्दा कुछ लोगों द्वारा उठाया जा रहा है, उसकी वजह से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विरोधियों को हमला करने का मौका जरूर मिल रहा है कि वे जानबूझ कर इसे टालने की योजना बना रहे हैं।

अमेरिका में कोरोना वायरस ने मचाई है भारी तबाही

  • इसमें कोई शक नहीं कि इस वक्त कोरोना वायरस की वजह से अमेरिका बेहद गंभीर स्थिति में है।
  • ऐसे में इसमें कोई ताज्जुब की बात नहीं होगी, यदि अमेरिका में नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को टालने का फैसला लिया जाता है।
  • हालांकि, यह फैसला केवल अमेरिकी राष्ट्रपति नहीं ले पाएंगे, बल्कि अमेरिकी कांग्रेस को इस प्रस्ताव को अपनी मंजूरी देनी होगी।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।



error: Content is protected !!