यहां जानें, कोरोना वायरस के लिए अपने-अपने राज्य का हेल्पलाइन नंबर
कृपया शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Corona Virus Helpline Numbers for all 28 states and 8 union territories

कोरोना वायरस से होने वाली बीमारी कोविड-19 (COVID-19) अब एक वैश्विक महामारी का रूप ग्रहण कर चुकी है। चीन से शुरू हुई यह महामारी विश्व के अनेक ताकतवर देशों को रौंदते हुए अब भारत में भी फैलती जा रही है। अब तक इस बीमारी का कोई पक्का इलाज भी नहीं आ सका है। ऐसे में, सावधानी और जागरूकता को ही इससे बचाव का सबसे कारगर फॉर्मूला माना जा रहा है।

तो आइए, यहां हम आपको केंद्रीय हेल्पलाइन नंबर समेत सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के हेल्पलाइन नंबर बता रहे हैं ताकि कोई भी समस्या होने पर आप तुरंत सरकार और स्थानीय प्रशासन के संपर्क में आ सकें और समय रहते आपका बेहतर इलाज हो सके।

कोरोना वायरस से फैलने वाली बीमारी से बचने के लिए जरूरी है कि अगर आपको ज़रा भी संदेह हो कि आप किसी कोरोना वायरस पीड़ित के संपर्क में आ गए हैं, तो तुरंत सचेत हो जाएं और सरकार और प्रशासन को इसकी सूचना दें। आप स्वस्थ रहेंगे, तभी देश स्वस्थ रहेगा। अगर आप अस्वस्थ हो गए, तो न केवल यह आपके लिए, बल्कि उन तमाम लोगों के लिए परेशानी की बात हो सकती है, जो आपके संपर्क में आते हैं।

इसलिए, ज़रा भी संदेह होने पर या कोरोना वायरस से जुड़ी किसी भी मदद या जानकारी के लिए फौरन केंद्रीय हेल्पलाइन नंबर अथवा अपने राज्य के हेल्पलाइन नंबर/नंबरों पर संपर्क करें।

उपरोक्त नंबरों के अलावा, ये जानकारी भी आपके काफी काम आएगी-

  • कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी जानकारी या सूचना के लिए टोल फ्री केंद्रीय हेल्पलाइन नंबर- 1075
  • कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी जानकारी या सूचना के लिए हेल्पलाइन ई-मेल आईडी- ncov2019[at]gov[dot]in

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।



1 thought on “यहां जानें, कोरोना वायरस के लिए अपने-अपने राज्य का हेल्पलाइन नंबर

error: Content is protected !!