जानिए, हमारे शरीर के लिए क्यों और कितना ज़रूरी है प्रोटीन?
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Why Protein is so important for your body

प्रोटीन, जो कि शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है, दरअसल 1839 में पहली बार एक डच रसायनशास्त्री ने शरीर के सर्वप्रथम तत्व को प्रोटीन का नाम दिया था। इसकी जरूरत आखिर शरीर को क्यों पड़ती है? इसकी कमी से और इसकी अधिकता से क्या नुकसान होते हैं? इसके स्रोत क्या हैं? यहां हम आपको सब के बारे में विस्तार से जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं।

इसलिए पड़ती है प्रोटीन की जरूरत (Need of protein)

  • शारीरिक वृद्धि के लिए।
  • शरीर के सभी अंगो के सही तरीके से विकास के लिए।
  • शरीर में किसी भी प्रकार की क्षति होने पर उसकी पूर्ति के लिए।
  • बढ़ते हुए बच्चों के विकास के लिए।
  • शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने के लिए।

प्रोटीन की कमी से होने वाले नुकसान (Protein deficiency could lead to)

  • शरीर में किसी चीज की कमी हो जाए तो उसकी पूर्ति नहीं हो पाना।
  • बुद्धि का ठीक तरीके से विकास ना हो पाना।
  • शरीर के अंगों का विकास भी सही तरीके से नहीं होना।
  • स्नायु तंत्र का कमजोर हो जाना।
  • गर्भावस्था (pregnancy) में मां और भ्रूण का तंतु कमजोर रह जाना।
  • हमेशा थकावट (tiredness) महसूस होना।
  • शरीर की रोग को ठीक करने की क्षमता घट जाना।
  • रक्त की कमी होना।
  • एनीमिया (anemia) का शिकार हो जाना।
  • हमेशा कमजोरी (weakness) का अनुभव होना।
  • हमेशा सुस्ती (laziness) छाए रहना।

क्या होता है कि अधिक प्रोटीन से? (What happen when protein increases in the body)

  • जिगर में खराबी आने लगती है।
  • गुर्दे (kidney) खराब हो सकते हैं।
  • ह्रदय रोग (heart diseases) की चपेट में आ सकते हैं।
  • कैंसर (cancer) का अंदेशा बढ़ जाता है।
  • खून में खराबी हो जाती है।
  • गठिया (arthritis) की शिकायत होती है।
  • वात रोग भी हो जाते हैं।
  • गर्भावस्था में रक्तचाप होता है।
  • रक्त का संचालन ठीक तरीके से शरीर में नहीं हो पाता है।

प्रोटीन के सर्वोत्तम स्रोत (Sources of Protein)

  • चोकर वाला गेहूं।
  • कणयुक्त चावल।
  • पूर्ण जौ (Barley)।
  • ज्वार।
  • नारियल (coconut)।
  • काजू (cashew)।
  • बाजरा (millet)।
  • बादाम (almond)।
  • मटर (peas)।
  • मूंगफली (peanut)।
  • काष्ठज मेवे (wooden nuts)।
  • मट्ठा (whey)।
  • तिल।
  • पनीर।
  • अखरोट (walnut)।
  • सोयाबीन (soybean)।
  • सेब (apple)।
  • दूध (milk)।
  • दालें (pulses)।
  • वैसे तो मांस, मछली और अंडे में भी प्रोटीन माना जाता है, लेकिन tanman.org शाकाहार को प्रोत्साहित करने के लिए प्रतिबद्ध है।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर इसे सब्सक्राइब करें


error: Content is protected !!