इन 21 लक्षणों से जानिए कहीं आपके शरीर में विटामिन सी की कमी तो नहीं?
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Importance of Vitamin C for your body

बाकी विटामिनों की तरह आपके शरीर के लिए विटामिन सी भी बहुत ही महत्वपूर्ण है। विटामिन सी कई तरह की बीमारियों से शरीर की रक्षा तो करता ही है, साथ ही शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाने में मददगार होता है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि विटामिन सी शरीर के लिए क्यों जरूरी है? इन्हें किन स्रोतों से प्राप्त किया जा सकता है और विटामिन सी की कमी से शरीर में क्या-क्या परेशानियां हो सकती हैं?

विटामिन सी के फायदे (Benefits of Vitamin C)

  • संक्रामक बीमारियों (infectious diseases) के प्रति यह शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करता है।
  • यदि शरीर से दुर्गंध आती है तो विटामिन सी उसे दूर कर देता है।
  • दांत व मसूड़ों को स्वस्थ बनाए रखने में विटामिन सी बेहद मददगार होता है।
  • यह शरीर को भी मजबूत बनाता है।
  • जुकाम को विटामिन सी दूर ही रखता है।
  • इनफ्लुएंजा (influenza) से भी बचाव करता है।
  • जोड़ों के दर्द से लड़ने की यह शरीर को ताकत देता है।
  • हड्डियों (bones) को मजबूत बनाने में विटामिन सी का बड़ा योगदान है।
  • विटामिन सी से शरीर में रक्त संचार (blood circulation) बना रहता है।
  • युवावस्था बनाए रखने में भी विटामिन सी का बड़ा योगदान है।
  • रक्त की नाड़ियों को विटामिन सी मजबूत बनाता है।
  • रक्तस्राव को रोकने का काम भी विटामिन सी करता है।
  • शरीर की थकावट को दूर करने में बेहद मददगार होता है।
  • दिल की बीमारियों (heart diseases) में भी लाभकारी है।
  • सांस संबंधी बीमारियों में भी इससे बड़ी मदद मिलती है।

विटामिन सी की कमी से होने वाले नुकसान (Deficiency of Vitamin C)

  • आंतों (intestine) में खून बहने की शिकायत होती है।
  • नसें (nerves) कमजोर होकर टूटने लगती हैं।
  • मसूड़ों से खून (gum bleeding) निकलता है।
  • पायरिया (piare) की आशंका बढ़ जाती है।
  • दांत गिरने लगते हैं।
  • मुंह से दुर्गंध आती है।
  • वजन कम (weight loss) होने लगता है।
  • श्लेष्मा झिल्ली (mucous membrane) कमजोर पड़ जाती है।
  • दिल के रोग (heart disease) होने लगते हैं।
  • जोड़ों में दर्द (joint pain) की शिकायत हो जाती है।
  • त्वचा संबंधी बीमारियां (skin diseases) अपनी चपेट में लेने लगती हैं।
  • घाव (wound) जल्दी नहीं भरते हैं।
  • स्कर्वी (scurvy) हो जाता है।
  • थकान हमेशा महसूस होती है।
  • शारीरिक ताकत में कमी आ जाती है।
  • हड्डियां कमजोर पड़ने लगती है।
  • दुर्बलता (weakness) आने लगती है।
  • मां का दूध कम होने लगता है।
  • बांझपन (infertility) का खतरा बढ़ जाता है।
  • गर्भपात (abortion) भी हो सकता है।
  • दमा (asthma) की आशंका बढ़ जाती है।

विटामिन सी के स्रोत (Sources of Vitamin C)

  • साग-सब्जियों (vegetables) से विटामिन सी मिलता है।
  • बंदगोभी में भी यह पाया जाता है।
  • पालक (palak) खाने से विटामिन से मिल सकता है।
  • इसके लिए आपको करेला (bitter gourd) भी खाना चाहिए।
  • मूली के पत्ते भी इसके बड़े स्रोत होते हैं।
  • हरा धनिया (green coriander) में भी यह विटामिन मिलता है।
  • फूलगोभी खाकर भी विटामिन सी पाया जा सकता है।
  • टमाटर (tomato) में भी इसकी मौजूदगी होती है।
  • हरी मिर्च (green chili) में विटामिन सी पाया जाता है।
  • आलू (potato) और चुकंदर (beetroot) खा कर भी आप विटामिन सी प्राप्त कर सकते हैं।
  • प्याज (onion) में भी विटामिन सी होता है।
  • नींबू (lemon) और आंवला (gooseberry) विटामिन सी के बहुत अच्छे स्रोत माने जाते हैं।
  • संतरे (oranges) तो विटामिन सी के लिए सबसे अच्छे स्रोतों में से एक हैं।
  • पके हुए पपीते में विटामिन सी होता है।
  • अनानास (pineapple) में भी यह विटामिन मिलता है।
  • इसके लिए आप खजूर (dates) का सेवन भी कर सकते हैं।
  • गन्ना (sugarcane) में भी विटामिन सी होता है।
  • मोसम्मी भी आप खा सकते हैं।
  • लीची (litchi) विटामिन सी का बढ़िया स्रोत है।
  • आम (mango) और अनार (pomegranate) में भी विटामिन सी पाया जाता है।
  • अंकुरित चना और मूंग खाने से भी विटामिन मिलता है।
  • कच्चा दूध (milk) यदि आप पीते हैं आपके शरीर में विटामिन सी पहुंचता है।
  • अमरूद (guava) में भी विटामिन सी होता है।

ये भी जानें (You must know)

  • जिन सब्जियों को कच्चा खाना संभव है, उन्हें कच्चा ही खाएं।
  • जो फल छिलके के साथ खाए जा सकते हैं, उन्हें छिलका सहित ही खाएं।
  • ध्यान रखें कि हमेशा ताजे फल और सब्जियों (fresh fruits & vegetables) का ही प्रयोग करें।
  • फल और सब्जी ज्यादा देर तक यदि काट कर रख देते हैं तो ये बेकार हो जाते हैं।
  • इन्हें ज्यादा बारीक काटने पर भी पोषक तत्व (nutrients) खत्म हो जाते हैं।
  • सब्जियों को ठीक तरीके से पकाना भी जरूरी है।
  • नोबेल पुरस्कार विजेता प्रोफेसर लाइनस पॉलिंग (Linus Pauling) के अनुसार विटामिन सी की यदि भारी खुराक कैंसर पीड़ित को दी जाए तो उसके कैंसर का बढ़ना रुक सकता है।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर इसे सब्सक्राइब करें


error: Content is protected !!