शरीर में न होने दें आयोडीन की कमी, वरना झेलनी पड़ सकती हैं ये बीमारियां
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Importance of iodine in the body

शरीर के लिए आयोडीन को बड़ा ही महत्वपूर्ण माना जाता है। आखिर इसकी कमी से क्या नुकसान हो सकते हैं? कहां से मिलता है शरीर को आयोडीन? इन सभी के बारे में यहां हम आपको जानकारी दे रहे हैं।

इसलिए पड़ती है आयोडीन की जरूरत (Need of iodine)

  • गल ग्रंथि, जिसे कि थाइराइड ग्लैंड के नाम से भी जानते हैं, इसके लिए आयोडीन बहुत ही जरूरी होता है।
  • शरीर में पाचन क्रिया के लिए भी आयोडीन की आवश्यकता पड़ती है।
  • घेघा और मोटापा से आयोडीन बचाव करता है।
  • त्वचा के लिए आयोडीन बहुत ही जरूरी होता है।
  • आयोडीन की मौजूदगी से बाल मजबूत बनते हैं।
  • आयोडीन की वजह से ही नाखून स्वस्थ रहते हैं।
  • शरीर के विकास में आयोडीन महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • शरीर की सुंदरता बढ़ाने के लिए भी आयोडीन जरूरी है।
  • आयोडीन बौद्धिक विकास में योगदान देता है।
  • गर्भावस्था में भी आयोडीन बहुत ही जरूरी होता है।

क्या होता है आयोडीन की कमी से? (Lack of iodine leads to)

  • घेघा नाम की बीमारी हो जाती है।
  • मोटापा आने लगता है।
  • थकान बहुत महसूस होती है।
  • मानसिक स्थिति कमजोर हो जाती है।
  • कद बौना रह जाता है।
  • किसी चीज को सहने की शक्ति कम हो जाती है।
  • जीवन को जीने की ताकत भी घटने लगती है।
  • मानसिक विकार भी हो जाता है।

आयोडीन के स्रोत (Sources of iodine)

  • अंगूर
  • सिंघाड़ा
  • काला तिल
  • आलू
  • काला जीरा
  • टमाटर
  • सलाद
  • हरा मटर
  • मूली
  • टमाटर
  • नाशपाती
  • संपूर्ण अनाज
  • गाजर
  • प्याज
  • अनानास
  • लहसुन

विशेष जानकारी (more information)

  • पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोगों को आयोडीन की कमी से बीमारियां ज्यादा होती हैं।
  • आयोडीन की शरीर में कमी हो जाए तो आयोडीन युक्त नमक को खाकर इसे पूरा करना चाहिए।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर इसे सब्सक्राइब करें


error: Content is protected !!