बार-बार डकार आने का मतलब ये बीमारियां कर रही हैं इंतजार
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Burping too much could be the indication of these diseases

आपने देखा होगा कि कई लोगों को बार-बार डकार आता है। कई बार तो भोजन करते वक्त भी उन्हें डकार आती है। सामान्यतः लोग इसके बारे में समझते हैं कि डकार (burp) का मतलब भोजन का पचना है, लेकिन ऐसा होता नहीं है। डकार आना कई गंभीर बीमारियों के आगमन का संकेत हो सकता है। यहां हम आपको इन्हीं बीमारियों के बारे में बता रहे हैं।

डकार क्या है? (What is burp)

भोजन करते वक्त जब आपके भोजन को निगलने वाली नली में हवा जमा हो जाती है तो डकार आने लगता है। यह हवा मुंह एवं गले से बाहर आते वक्त कंपन करके आवाज करती है, जिसे ही डकार कहा जाता है।

इन बीमारियों का मिलता है संकेत (Indication of these diseases)

  1. कब्ज (constipation), पेट दर्द (stomach pain), बेचैनी और मल त्याग करते वक्त परेशानी होने लगती है तो इसे इरिटेबल बाउल सिंड्रोम (irritable bowel syndrome) कहते है। डकार आना इसकी ओर इशारा करता है।
  2. एसिडिटी भी कई बार अधिक डकार आने की वजह बनती है। इसलिए फाइबर (fiber) युक्त भोजन लेना जरूरी होता है। ज्यादा डकार आना एसिडिटी (acidity) और एसिड रिफ्लक्स (acid reflux) जैसी गंभीर बीमारियों के आने का सूचक है।
  3. डकार का अधिक आना तनाव (tension) के बढ़ने का भी सूचक है।
  4. डकार का बार-बार आना एरोफेजिया की ओर भी इशारा करता है। भोजन करते वक्त यदि आप आराम से चबा-चबा कर नहीं खाकर तेजी से बड़े-बड़े निवाले लेकर खाते हैं तो पाचन (digestion) गड़बड़ हो जाता है। इस स्थिति में भी डकार आते हैं।

डकार आने की वजह (Reasons behind burping)

  1. पाचन तंत्र (digestive system) के बिगड़ने की वजह से।
  2. पेट में अल्सर (ulcer in stomach) होने से।
  3. छोटी आंत में यदि बैक्टीरिया बढ़ जाए तो भी डकार आते हैं।
  4. भोजन चबाकर न खाने की सूरत में यह ठीक से पचता नहीं और डकार आने लगते हैं।
  5. जम्हाई (yawning) लेने से भी मुंह के जरिये पेट में हवा पहुंचने की स्थिति में डकार आते हैं।
  6. खाली पेट में गैस बनने की स्थिति में भी डकार आते हैं।
  7. जंक फूड (junk food) के सेवन और जरूरत से ज्यादा भोजन करने से भी डकार आने लगते हैं।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।



error: Content is protected !!