सरसों के तेल के टाॅप 10 फायदे
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Top 10 benefits of mustard oil

सरसों के तेल यानी mustard oil का इस्तेमाल प्रायः हर घर में होता है। सरसों के तेल का प्रयोग घर में सब्जियां बनाने के अलावा भी कई अन्य कामों में किया जाता है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि सरसों का तेल अलग-अलग 10 प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को दूर करने में किस तरह से मददगार हो सकता है।

एककान का दर्द यानी ear pain होने पर :

यदि आपके कान में दर्द हो रहा है तो आपको सरसों के तेल में लहसुन को पका लेना चाहिए। यह काला हो जाए तो इस तेल को आपको कान में डालना चाहिए। इससे आपके कान का दर्द दूर हो जाता है।

दोथकान यानी tiredness महसूस होने पर :

यदि आपको बहुत ज्यादा थकान महसूस हो रही है तो सरसों का तेल गर्म करके यदि आप इससे शरीर की मालिश करते हैं तो इससे ना केवल थकान दूर होती है, बल्कि आपको एक अलग ही ऊर्जा का एहसास होता है।

तीनआंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए :

सरसों का तेल यदि आप माथे में लगाते हैं और इससे इसकी मालिश करते हैं तो इससे आपके आंखों की रोशनी बढ़ती है।

यदि आप सरसों के तेल से अपने पैरों के तलवे पर मालिश करते हैं तो इससे भी आपके आंखों की रोशनी बढ़ती चली जाती है।

चारबाल सफेद होने से बचाने के लिए :

सरसों का तेल बालों में लगाने से समय से पहले बाल भी सफेद नहीं होते हैं।

पांचपायरिया होने पर :

यदि आप हल्दी और सरसों का तेल मिलाकर मंजन की तरह इससे अपने दांतों को साफ करते हैं तो ऐसा कुछ दिनों तक करने से मसूड़ों से संबंधित रोग मिट जाते हैं। इससे पायरिया भी खत्म हो जाता है और दांतों में मजबूती भी आती है।

छहकट जाने पर :

यदि आपके शरीर में कहीं कट गया है या फिर छिल गया है या किसी भी तरह का चोट लग गया है, जिससे शरीर से खून तेजी से बह़ रहा है तो आपको सरसों के तेल को पानी में मिला लेना चाहिए और इसके बाद उस कटे या छिले हुए स्थान पर तुरंत लगाना चाहिए। इससे खून बहना (bleeding) बंद हो जाता है।

सातसीने में दर्द यानी chest pain होने पर :

यदि आपको छाती में दर्द की शिकायत हो रही है या सर्दी है तो आपको इसमें कपूर मिलाकर अपनी छाती और पसलियों की मालिश करनी चाहिए। इससे आपको आराम मिल जाएगा।

आठबच्चों के पेट में कीड़े होने पर :

यदि आपके बच्चों के पेट में कीड़े हो गए हैं तो कच्ची हल्दी को आपको गुड़ में मिला लेना चाहिए और इसे बच्चों को खिलाना चाहिए। इससे जो पेट में कीड़े होते हैं, वे मल के साथ बाहर निकल आते हैं।

नौसर्दी-जुकाम होने पर :

यदि जुकाम की समस्या से आप परेशान हैं तो इसमें भी यह बड़ा मददगार होता है। इसके लिए आपको बस नाक में सरसों का तेल लगाना होगा।

दसकाले धब्बे और झाईयां होने पर :

सरसों का तेल काले धब्बे और चेहरे की झाई को भी दूर करता है। इसके लिए आपको सरसों के तेल से रात में सोने से पहले अपने चेहरे पर अच्छी तरह से लगा लेना है और सुबह उठने के बाद बेसन लगाकर अपने चेहरे को धो लेना है। इससे ना केवल आपके चेहरे की झाई दूर होगी, बल्कि काले धब्बे भी मिट जाएंगे।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।



error: Content is protected !!