गुलाब के ये 6 औषधीय उपयोग आपकी 6 समस्याएं दूर कर देंगे
कृपया इसे शेयर करें ताकि अधिक लोग लाभ उठा सकें

Top 6 medicinal uses of rose

गुलाब (rose) का फूल देखने में कितना खूबसूरत लगता है न? प्यार के इजहार के लिए भी लोग गुलाब देते हैं। मगर क्या आपको मालूम है कि गुलाब कई बीमारियों के इलाज में भी मददगार होता है? जी हां, गुलाब से जिन बीमारियों का इलाज आप घर में ही कर सकते हैं, उनके बारे में यहां हम आपको बता रहे हैं।

  1. कब्ज (constipation) की समस्या का इससे उपचार किया जा सकता है। इसके लिए आपको रात में सोते वक्त पांच तोले गुलकंद गुलाब को गर्म दूध में डालकर ले लेना है। इससे मल ढीला हो जाता है और सुबह में आसानी से निकल जाता है। एक दिन में लाभ नहीं मिले तो कई दिनों तक इसे लगातार लेना चाहिए। इससे लाभ मिलना-ही-मिलना है।
  2. कलेजे की धड़कन (heartbeats) को भी इससे नियंत्रण में लाया जा सकता है। इसके लिए 25 ग्राम गुलकंद, 100 ग्राम जल और 100 ग्राम गाय का दूध लेना है। इसे मिलाकर पी जाना है। शाम में भी चाहें तो इसे पी सकते हैं। इससे बीमारी तो ठीक होगी ही, साथ ही मल भी साफ हो जायेगा।
  3. दांतों (teeth) को भी इससे साफ रखा जा सकता है। रोजाना इसके लिए आपको गुलाब की डाल के ताजे दातुन से मुंह को साफ करना है। इससे न केवल दांत मजबूत होंगे, बल्कि मसूड़े भी रोग से मुक्त रहेंगे।
  4. आंखों की बीमारियां (eye diseases) भी इससे दूर रहेंगी। आंखों में जलन, कड़कपन, आंखों की लाली आदि को दूर करने में यह मददगार होता है। इसके लिए सुबह-शाम आपको आंखों में असली गुलाब जल डालना है।
  5. प्यास (thirst) बुझाने में भी यह मददगार होता है। इसके लिए गुलाब की ताजी या सूखी पंखुड़ी ले लें। उसे पीस लें। फिर घड़े में जो बासी पानी रखा है और यदि पुरानी खांड है, तो इन्हें मिलाकर शर्बत बना लें। दो-दो घंटे दो से चार बार पीने से प्यास बुझ जायेगी।
  6. गुलाब के सूखे फल 25 ग्राम, गोरखमुंडी 15 ग्राम और काले मुनक्के 15 ग्राम लेकर इन्हें पीसकर एक लीटर पानी में डालें और काढ़ा बना लें। आधा सुबह और आधा शाम में पीएं। इसे 15 दिनों तक लेंगे तो सामान्य चर्म विकार मिट जाएंगे। शरीर में जो फालतू की गर्मी बढ़ती है, वह भी नहीं बढ़ेगी।

अस्वीकरण (Disclaimer):

इस वेबसाइट पर प्रकाशित स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां केवल सूचनात्मक उद्देश्य के लिए हैं और ये पेशेवर चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार का विकल्प नहीं हैं। यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या ऐसी किसी समस्या का आपको संदेह है, तो अपने पारिवारिक चिकित्सक या अन्य उपयुक्त चिकित्सक से परामर्श करें। यदि आप किसी हेल्थ इमरजेंसी का सामना कर रहे हैं या इसका आपको संदेह है, तो कृपया अपने नजदीकी अस्पताल के आपातकालीन विभाग में जाएं।

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर इसे सब्सक्राइब करें


error: Content is protected !!